बाप था Labour और बेटा बन गया Millionaire | Real life inspirational stories of success in Hindi

आज हम एसे बंदे के real life inspirational stories of success in hindi बारे मे जानेंगे जिसने बचपन से सिर्फ गरीबी ही देखि फिर भी अपने सपने को पीछे नहीं छोड़ा और comedian बन के ही दिखाया, आज हम बात करेंगे Great American tv personality स्टीव हार्वे के संघर्ष की कहानी ( steve harvey struggle story in hindi )
पूरा नाम Broderick Steven Harvey
जन्म की तारीख जनवरी 17, 1957 (age 64)
जन्म का स्थान Welch, West Virginia
राशि Capricorn
पढ़ाई Glenville High School
पेशा Television presenter
comedian
actor
author
businessman
Years Active 1985-present
Television Family Feud
Steve Harvey Show
Little Big shots
Net Worth $200 Million
Steve Harvey के जीवन के बारे मे जानकारी | steve harvey struggle story in hindi

कौन है Steve Harvey | Real life inspirational stories of success in hindi


Steve Harvey, American टेलीविजन और रेडियो presenter, एक्टर, लेखक, comedian और बिजनेसमैन है।


Steve Harvey का जन्म 17 जनवरी 1957 को हुआ था उनके पिता एक कॉल miner थे, उन्होंने बचपन से ही गरीबी को देखा है।


कॉलेज की पढ़ाई पूरी करते ही यह जॉब की तलाश में बाहर निकल पड़े। इन्होने बहुत सारे जॉब ट्राइ किये जैसे कि इंश्योरेंस एजेंट, बॉक्सिंग, और फिर इन्होने कॉमेडी में हाथ आजमाने का डिसाइड किया।

स्टीव हार्वे की कॉमेडी journey की शुरुआत


Steve Harvey, अपने दोस्त AJ Jamal के लिए जोक्स लिखते थे एक जोक के उन्हें $10 मिलते थे, October 8, 1985, जब वह 27 साल के थे तब उन्हें कॉमेडी क्लब के बारे में पता लगा और उनकी एक फीमेल फ्रेंड ने उनका नाम भी कॉमेडी क्लब में लिस्ट करवा दिया।

जैसा ही उनका नाम अनाउंस हुआ वह चौक गए, फिर वह स्टेज पर गए उनके पास कोई जोक नहीं था तो उन्होंने उसी टाइम एक जोक बनाया उस टाइम माइक टायसन बहुत फेमस थे तो माइक टायसन से लेकर ही उन्होंने अपना फेमस कॉमेडी जोक कहा जो आज भी फेमस है।


उस दिन के बाद इनका जीवन पहले ऐसा नहीं रहा जब वह अपने घर लौट रहे थे तब वह गाड़ी में ही रोने लगे।

उनको अपने काम करने के $50 मिले थे पर वह $50 के लिए नहीं रो रहे थे वह इसलिए रो रहे थे क्योंकि उनको अपने जीवन का मकसद मिल गया था।

Related: इसे भी पढे

जब Steve Harvey स्कूल में पढ़ते थे तब 1 दिन टीचर ने सारे क्लास रूम में बैठे बच्चों से पूछा कि आप बड़ा होकर क्या बनना चाहते हो।


तो सभी बच्चे अपना-अपना ड्रीम बताने लगे जब Steve Harvey की बारी आई तब उन्होंने कहा कि वह टीवी पर आना चाहते हैं, बचपन से ही स्टीव हार्वे को हकलाने की बीमारी थी, वह घर के बाहर बात नहीं कर पाते थे। (steve harvey struggle story in hindi)

जब टीचर ने यह सुना कि Steve Harvey टीवी पर आना चाहते हैं तो उन्होंने Steve Harvey की बेइज़्ज़ती करनी चालू कर दी, टीचर ने कहा कि


“तुम ऐसे लड़के हो जो हकलाता है और तुम कहते हो कि तुम टीवी पर आओगे ऐसा नहीं हो सकता तुम क्लास रूम के सामने एक शब्द नहीं बोल सकते और तुम टीवी पर आना चाहते हो।”

Steve Harvey को इस बात से बहुत दुख हुआ और उन्होंने उसी दिन ठान लिया कि वह टीवी पर जरूर आएंगे।


Steve Harvey के life में कैसे Struggles आए | steve harvey struggle story in hindi


वह समय था 1991 का स्टीव हार्वे फ्लोरिडा में थे उनके पास रहने का कोई ठिकाना नहीं था न ही खाने पीने का कोई जरिया था ।

वह अपनी कार में ही सोते थे और रहते थे उनके पास बस $35 ही बचे थे उन्हें स्ट्रगल करते हुए बहुत टाइम बीत चुका था और वह हार मानने ही वाले थे, वह एक टेलीफोन बूथ के पास गए और वह अपने पिताजी को कॉल लगाने वाले थे।


ताकि वह अपने बेटे Steve Harvey को आकर, अपने घर ले जाए, उस जमाने में हर इंसान के पास एक मैसेज का सिस्टम होता था और वह मैसेज का सिस्टम एक कोड से जुड़ा होता था अगर आप किसी फोन बूथ से भी कॉल कर रहे हैं और अगर आप अपना कोड डालेंगे तो आपको जिसने भी मैसेज भेजा होगा वह मैसेज आप सुन सकते हैं ।

तो यहां भी वैसा ही हुआ जैसे ही Steve Harvey ने अपने पिताजी को कॉल लगाने के लिए अपना पर्सनल कोड डाला, उनको एक मैसेज दिखाई पड़ा जब उन्होंने अपना मैसेज चेक किया तो वह मैसेज chuck sutton का था।


उन्होंने स्टीव को शोटाइम ऐट अप्पोलो में कॉमेडी एक्ट करने के लिए invite किआ लेकिन स्टीव के पास इतने पैसे ही नहीं थे कि वह न्यूयॉर्क जा सके, उन्होंने भगवान से प्रार्थना की और कहा

” हे भगवान आप मेरे साथ क्या कर रहे हो मैं जिंदगी में कुछ करना चाहता हूं लेकिन आप मुझे मौका ही नहीं दे रहे हो”


ऐसा बोलने के कुछ देर के बाद जैसे ही उन्होंने फोन पर फिर से अपना मैसेज चेक किया तो उनको दूसरे किसी इंसान ने कॉल किया था जो फ्लोरिडा से कुछ ही दूर आगे एक show करवा रहे थे और उसमें उनको कॉमेडी करवानी थी तो वो एक बंदे को ढूंढ रहे थे उन्होंने Steve को इनवाइट किया और कहा


“क्या तुम हमारे यहां एक रात के लिए काम करोगे तुम्हें $150 मिलेंगे।“


Steve तुरंत रेडी हो गए और 3 घंटे की ड्राइव करके वह उस जगह पर पहुचे और show किया, उन्हे $150 मिले।


ऑर्गेनाइजर ने फिर से स्टीव को एक और show करने के लिए कहा और स्टीव मान गए , अब स्टीव के पास $300 थे।


उस टाइम एक ऑफर चल रहा था जिसमे फ्लोरिडा से न्यूयॉर्क जाने के लिए flight ticket सिर्फ $99 में ही मिल रही थी, फिर वह भगवन का शुक्रिया करते हुए new york के लिए निकल पड़े।


जैसे ही वह new york पहुंचे उनके पास रहने के लिए कोई ठिकाना नहीं था, इसलिए वह सुबह से अप्पोलो थिएटर के dressing room में ही रहे।

शाम होते ही बड़े बड़े दिग्गज comedians आने लगे जैसे कि जेमी फॉक्स । उस दिन सारे कॉमेडियंस को बेइज्जत करके स्टेज से भगा दिया जा रहा था ऑडियंस बहुत ही rude बर्ताव कर रही थी और सारे कॉमेडियन को शो से भगा दे रहे थे, स्टीव बहुत नर्वस हो गए।


उन्हें लगा कि उनकी आज बेइजत्ती होने वाली है पर उन्होंने इतना अच्छा show किआ की लोगों ने उन्हें स्टैंडिंग ओवेशन दिया और उन्होंने उस दिन $750 कमाए, उन्होंने आज तक एक साथ इतने पैसे नहीं कमाए थे।


वह जैसे ही स्टेज शो करके सीढ़ियों से नीचे उतर रहे थे उनके आंख में आंसू आ गए, उन्होंने भगवान को शुक्रिया किया।
स्टीव कहते हैं कि


“अगर तुम हार मान लेते हो तो यह पक्की बात है कि तुम अब आगे नहीं बढ़ सकते हो, कुछ हो जाए तुम अपने ड्रीम को अचीव नहीं करोगे क्योंकि तुमने हार मान लिया है अब यह परमानेंट बात है कि अब तुम्हारा कुछ नहीं हो सकता लेकिन अगर तुम हार नहीं मानते हो और हमेशा कोशिश करते रहते हो तो हमेशा एक होप रहेगी की तुम कुछ बन जाओ या कुछ कर जाओ इसलिए कभी भी हार नहीं माननी चाहिए।”

अगर आप यह पढ़ रहे हैं तो यहां तक आने के लिये धन्यवाद मुझे आशा है की आपको बाप था Labour और बेटा बन गया Millionaire | Real life inspirational stories of success in Hindi की हिन्दी कहानी पसंद आई होगी ।

और रोमांचिक कहानियां है निचे पढ़े।

Leave a Comment

भुज the pride of india के असली हीरो विजय कार्णिक |Biography of vijay karnik in hindi 22 Blogs fail हुए पर अब कमाते है लाखो में |Success story of Indian blogger Olympic मेडल दिलाने वाली Saikhom mirabai chanu biography in hindi वरुण बरनवाल की IAS बनने की कहानी | success story of ias in hindi 2021
भुज the pride of india के असली हीरो विजय कार्णिक |Biography of vijay karnik in hindi 22 Blogs fail हुए पर अब कमाते है लाखो में |Success story of Indian blogger Olympic मेडल दिलाने वाली Saikhom mirabai chanu biography in hindi वरुण बरनवाल की IAS बनने की कहानी | success story of ias in hindi 2021