ऐसी काली आत्मा जो रूप बदल लेती है | scary horror stories in hindi

नमस्कार दोस्तों आपका hindikahaniyauniverse.com में स्वागत है। इस blog पे आपको ऐसी काली आत्मा जो रूप बदल लेती है | scary horror stories in hindi ..इन्ही तरह के और भी  Hindi kahaniya पढ़ने को मिलेंगे ।
 

scary horror stories in hindi की सुरुआत

बिहार के एक गाँव मे रामवती नाम की औरत और उसका पति मनोज रहता था।
 
दोनो मियाँ-बीवी गाँव के ठीक बॉर्डर पर रहते थे इसी कारण से उस इलाके में बहुत कम चहल पहल रहती थी।
 
एक बार की बात है मनोज को दूसरे गाँव मे अचानक जाने की जरूरत आ पड़ी और मनोज को शाम 5 बजे ही घर से निकलना पड़ा।
 
पर राहत की बात यह थी कि मनोज सुबह 6 बजे तक घर वापस आ जाएगा।
 
अब रामवती को रात में अकेले ही घर मे रहना पड़ेगा और अपने पति का wait करना पड़ेगा।
 
रामवती के घर मे 2 बिल्लियां भी थी । रामवती घर मे आ गयी और कुछ समय बाद नींद के कारण जमीन पर ही लेट गयी ।
 
कुछ देर नींद लेने के बाद उसकी नींद टूट गयी पर उसने देखा उसकी बिल्लियां अजीब तरह से बर्ताव कर रही है। उस समय रात के 10 बज चुके थे और इलाका भी सुनसान हो चुका था।
 
जैसे ही वह अपने कमरे में आई उसने देखा उसका पति बिस्तर पर लेटा हुआ है पहले तो रामवती को अजीब लगा कि उसका पति अचानक घर कैसे आ गया। पर उसने इसके बारे में ज्यादा नही सोचा।
 
उसकी बिल्लियां अचानक से रोने लगी इसलिए रामवती दूसरी तरफ घूम कर उसे चुप कराने लगी उसी समय पीछे से किसी ने बोला “बिल्ली रानी चुप हो जाओ” ।
 
Related : इन्हे भी पढ़े 
 
 
मनोज ही हमेशा इस कह के बिल्लियों को बुलाता था पर समय वह आवाज मनोज की नही थी रामवती ने जैसे ही यह बात notice की उसने अचानक से पीछे मुड़कर देखा ।
 
और बिस्तर खाली था बिस्तर पर एक भी सिलवट भी नही थी मानो जैसे कोई वहाँ था ही नही।
 
यह देख कर मानो रामवती के पैर ही ठंढे हो गए उसे समझ ही नही आ रहा था कि क्या चल रहा है।
 
फिर रामवती ने देखा कि कमरे के पर्दा हिल रहा है तो उसने सोचा का उसका पति बाहर चला गया होगा।
 
पर उसी समय उसी रास्ते से कोई तेजी से गुजरा वह इंसान झुक के दौड़ रहा है और उसका चेहरा भी बिगड़ा हुआ था।
 
यह देख कर रामवती समझ चुकी थी की वह उसका पति नही बल्कि कोई प्रेत उसके घर मे घुस चुका है।
 
उसी समय उसके बिस्तर से “कररर कररर” की आवाज़ आने लगी जैसे कोई नीचे से खरोच रहा है।
 
रामवती के बिस्तर के नीचे के हिस्से में बहुत कम जगह होती है उसकी बिल्लियॉ भी बहुत मुश्किल से अंदर घुस पाती है तो उस समय नीचे से कौन “कररर कररर” कर रहा था? रामवती यही सोच रही थी।
 
फिर कुछ देर बाद वह आवाज़ बंद हो गयी, उसने अपने main दरवाजे पर किसी की आने की आहट सुनी ।
 
“रामवती मैं आ गया” यह बात बाहर कोई बोल रहा था मनोज हमेसा घर आने के बाद same ऐसा ही कहता था।
 
रामवती को लगा उसका पति लौट आया है और वह दौड़ी दौड़ी बाहर दरवाजा खोलने गयी।
 
पर जैसे ही उसने दरवाजा खोला उसने देखा बाहर कोई भी नही है फिर रामवती सोचने लगी कि जो जो चीज़ सिर्फ में और मेरे पति जानते है वो दूसरा इंसान कैसे पता लगा सकता है यह सोच कर वो और सदमे में आ गयी।
 
वह अपने होश नद आ ही रही थी कि सामने रोड के पास एक पेड़ था उस पेड़ के पास से अचानक वह same प्रेत दौड़ के घर के तरफ आने लगा और रामवती ने डर के मारे दरवाजा लगा दिया और जोर जोर से रोने लगी ।
 
रामवती एक कोने में घुटने मोड़ के बैठ गयी और रोती रही फिर उससे किसी की खिलकिलाने की आवाज़ आयी।
 
 जब रामवती ने अपने बगल में देखा तो वह प्रेत ठीक रामवती की ही तरह बैठा हुआ था और झूठ मूठ के रो रहा था।
 
यह देख कर रामवती को shock लग गया और वह जोर जोर से चीखने लगी और चीखते-चीखते ही बेहोश गयी।
 
अगली सुबह मनोज घर आया और अपने बीवी को hospital ले गया और जब रामवती को होश आया तो उसने मनोज को पूरी कहानी बताई।
 
अगर आप यह पढ़ रहे हैं तो यहां तक आने के लिये धन्यवाद मुझे आशा है की आपको ऐसी काली आत्मा जो रूप बदल लेती है | scary horror stories in hindi की हिन्दी कहानी पसंद आई होगी ।
 
और रोमांचिक कहानियां है निचे पढ़े।

Leave a Comment