हर इंसान की एक योग्यता होती है | Hindi kahaniya

हर इंसान की एक योग्यता होती है | Hindi kahaniyaनमस्कार दोस्तों आपका hindikahaniyauniverse.com में स्वागत है। इस blog पे आपको  हर इंसान की एक योग्यता होती है | Moral stories in hindi इन्ही तरह के और भी  Hindi kahaniya पढ़ने को मिलेंगे ।

हर इंसान की एक योग्यता होती है Hindi kahaniya की सुरुआत 

एक गांव मे एक किसान रहता था। जिसका नाम राजू था। राजू के पास एक खेत थी उसी मे वह आनाज उगाता था और अपना जीवन यापन करता था।

राजू एक दिन बाज़ार गया हुआ अपने खेत के लिये कुछ बीज लेने। तभी बगल वाले दुकान पर उसे 2 बड़ा घड़ा दिखाई दिया।

 राजू घडो को देख सोचने लगा, अगर मै इस घडो को ले लेता हूं तो मेरी बहुत मदद हो जायेगी।

मुझे रोज-रोज नदी मे पानी लाने के लिये नही जाना पडेगा। यह सोच कर राजू दोनो घडो को ले लेता है। दोनो घडे बहुत बड़े और गहरे थे। 

Related : इन्हे भी पढ़े 

 किसान घडो को लेकर बहुत खुश था। 

अगली सुबह राजू ने एक दंडे के दोनो तरफ एक एक घडो को रस्सी से बांध दिया और नदी की ओर पानी लाने के लिये चल दिया। 

नदी से पानी ले कर राजू जब घर 【Hindi kahaniya】आया उसने देखा की एक घडा पानी से लबालब भरा हुआ है और दुसरा घडा आधा भरा हुआ है। यह देख किसान समझ गया की एक घडा फूटा हुआ है।

किसान ने उस घडे का पानी दुसरे घडे मे रख दिया। राजू हर दुसरे दिन दोनो घडो को लेकर जाता और पानी भर कर लाता था। एक दिन टूटा घडा बहुत उदास और रोते हुए कहता है।

घड़ा हुआ उदास Stories in hindi 

 मै टूटा हुआ हूं फिर भी मालिक मुझे रोज ले जाते है। तब दुसरा घडा जो ठीक था वो कहता है। मुझे देखो मै पुरा पानी घर लाता हूं। और तुम सारा पानी रास्ते मे बहा देते हो।  

जब किसान पानी लाने के लिये जाने लगा तब टुटा घडा बोलता है मालिक मै टुटा हुआ हूं। मै कोई काम का नही हूं,मुझे मत ले जाओ मै तो पानी भी नही ला पाता।

तब किसान टूटे घडे से बोलता है। तुम उदास मत हो आज के बाद तुम्हे कभी अपने टूटे होने पर बुरा नही लगेगा। राजू दोनो घडे लेता है और नदी की ओर बढ़ने लगता है। 

रास्ते मे बहुत सारे फूल खिले हुए थे। जिसकी खुशबू किसी को भी अपनी ओर आकर्षित कर लेती। किसान टूटे घडे से बोलता है मुझे पहले दिन ही पता चल गया था की तुम टूटे हुए हो। यह सारे फूल तुमने उगाये हैं।

तुम हर रोज इन सभी फूलो को पानी देते हो। जब मुझे पता चला था की तुम्हारा पानी रास्ते मे गीर जाता है मैने उन रास्तो पर फूल मैने फूल के कुछ बीज डाल दिये थे। तुम हर रोज उनको पानी देते हो और आज वह फूल बहुत अच्छे खिले हैं।

इन फूलो को बेच कर मै कुछ पैसे कमा लेता हूं। तो तुम कभी यह मत सोचना की तुम कोई काम के नही हो। हर कोई काम का होता है बस उसको अपनी कीमत पता होनी चाहिये।

सीख:- जिन्दगी मे कभी किसी के कमी का मज़ाक नही बनाना चाहिये। हर कोई खुबसूरत होता है सब की अपनी अहमियत होती है।

अगर आप यह पढ़ रहे हैं तो यहां तक आने के लिये धन्यवाद मुझे आशा है की आपको हर इंसान की एक योग्यता होती है | Hindi kahaniya की हिन्दी कहानी पसंद आई होगी 

और रोमांचिक कहानियां है निचे पढ़े।

Leave a Comment