ए stree कल आना Horror story|real story of naale baa in hindi

नमस्कार दोस्तों आपका hindikahaniyauniverse.com में स्वागत है। इस blog पे आपको ए stree कल आना Horror story|real story of naale baa in hindi इन्ही तरह के और भी  Hindi kahaniya पढ़ने को मिलेंगे ।

Real story of naale baa in hindi की सुरुआत

चुड़ैलो के बारे मे आप सभी ने जरुर सुना होगा। चुड़ैलो के चर्चे केवल भारत मे ही नही बल्कि पूरी दुनिया मे होते हैं।

कई लोग इनपर विशवास करते हैं तो कई लोगो को यह केवल अन्धविश्वास के अलावा और कुछ नही लगता।

आज मै आपको जो कहानी सुनाने वाला हूं वह है नाले बा (nale ba) के बारे मे।

नाले बा क्या है?

नाले बा कनड़ भाषा का एक शब्द है जिसका मतलब होता है “कल आना” ।

यह कहानी है 1984 की, बंगलोर के मलेश्वरम और राजाजी नगर गांव की यह horror story है। जिसने पुरे बंगलोर के लोगो को थर थर काँपने पर मजबूर कर दिया था।

Related : इन्हें भी पढ़े

अभी Click करे और देखे, एसा Reusable Notebook जिसको आप 1000 साल तक Use कर सकते है (Scan करने पर आपका Text Google drive और DropBox पर भी चला जाएगा)

इस घटना ने पुरे बंगलोर मे दहशत मचा दी थी। कई लोग इसको अफवाह कहते हैं तो कई लोग इसे आप बीती बताते हैं।

मालेश्वरम और राजाजी नगर गांव के लोगो का कहना था की रोज रात को लाल साड़ी मे एक चुड़ैल गांव मे घूमती थी।

यह चुड़ैल लोगो के घरों के दरवाजे खटखटाती थी। जो भी दरवाजा खोल देता उसकी मौत हो जाती थी।

शुरुआत मे गांव के लोगो को इस बात पर विश्वास नही हुआ। लेकिन जब लोग इस चुड़ैल के अनेको कहानियां और उन लोगो की खबरें सुनने लगे जिसको चुड़ैल मे मार दिया था। तब लोगो को इस बात पर यकिन होने लगा।

चुड़ैल की दहशत बढ़ने लगी थी यह इतनी बढ गई थी की लोग शाम के 6 बजे के बाद घर से नही निकलते थे। चुड़ैल के बारे मे ऐसा कहा जाता था की वह परिवार के सदस्यों के आवाज भी निकालती थी।

महज कुछ ही दिनो मे इस चुड़ैल ने बहुत लोगो का शिकार किया था। इस घटना के बारे मे लोग बहुत बाते करते थे।

यहां तक की अंतर्राष्ट्रीय अखबारो मे भी इस नाले बा के बारे मे खुब चर्चे थे।

Related : इन्हे भी पढ़े 

आलम यह था की मालेश्वरम और राजाजी नगर की सड़कें सूर्यास्त के बाद वीरान हो जाती थी। सभी लोग अपने घरो मे कैद हो जाते थे। किसी के पास भी इसे बचने का कोई उपाय नही था।

चुड़ैल को भगाने का उपाय|Real story of naale baa in hindi

एक रात एक औरत को आधी रात को उसके पति के आवाज मे पुकारा गया। वह औरत बहुत डर गई क्युंकि उसका पति उसके साथ उसके बगल मे सोया हुआ था।

घबराहट मे उस औरत के मुँह से निकल गया नाले बा (naale baa) जिसका मतलब होता है कल आना। इसके बाद बाहर से आवाजे आनी बंद हो गई ।

अगले दिन उस औरत को फिर से वह आवाजे आने लगी उसने फिर से नाले बा कहा और आवाजे आनी बंद हो गई।

यह नुश्का चुड़ैल से बचने का लोगो मे प्रचलित हो गया। सभी लोग अपने घरो के बाहर नाले बा लिखने लगे।

एक समय ऐसा आया था जब बंगलोर के सभी घरो के बाहर नाले बा (naale baa) लिखा हुआ था।

ऐसा ही एक घटना हुआ वेंकटेश नाम के पत्रकार के साथ। वेंकटेश इस गांव मे नाले बा की सच्चाई जानने आया था।

एक रात वह सो रहा था तभी किसी ने दरवाज़ा खटखटाया वेंकटेश उठा उसे ऐसा लगा उसकी मां उसे पुकार रही है।

वेंकटेश ने जैसे ही दरवाजा खोला अचानक उसे किसी ने उठा कर फेक दिया जिसे वह दिवार पर जा टकराया और बेहोश हो गया। सुबह जब वह उठा उसे समझ ही नही आया की कल रात हुआ क्या था।

लोगो का कहना था की वह गांव के बाहर से था इस लिये उसे चुड़ैल ने नही मारा।

यह horror stories कहां तक सच है यह तो मै नही कह सकता। परंतु इस घटना ने पुरे बंगलोर को डरा कर रख दिया था।

स्त्री फिल्म की असली कहानी

इस घटना पर स्त्रि फिल्म भी आधारति है। स्त्री फिल्म की कहानी बंगलोर मे 1984 के दसक मे हुई इस नाले बा की घटना पर प्रकाशीत है।

कन्नड़ मे भी एक फिल्म बनी है इस घटना पर जिसका नाम naale baa था।

अगर आप यह पढ़ रहे हैं तो यहां तक आने के लिये धन्यवाद मुझे आशा है की आपको ए stree कल आना Horror story|real story of naale baa in hindi की हिन्दी कहानी पसंद आई होगी ।

और रोमांचिक कहानियां है निचे पढ़े।

Leave a Comment